रागी सत्त्व / नाचनी सत्व रेसिपी Ragi Satva / Nachni Satva / Healthy Finger Millet Recipe In Hindi​

 



रागी सत्त्व / नाचनी सत्व रेसिपी Ragi Satva / Nachni Satva / Healthy Finger Millet Recipe In Hindi​

रागी को अगर रागी सत्व बनाकर खाए तो उसके फायदे बहुत ही ज्यादा शरीर को मिलते हैं.

रागी में मौजूद पोषक तत्व हड्डियों को कमजोर होने से बचाते हैं. हड्डियों को मजबूत बनाते हैं. रागी का सेवन करने से ओस्टियोपोरोसिस होने की संभावना बहुत कम होती है. रागी में कैल्शियम, फाइबर, और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा अधिक होती है. रागी का सेवन करने से वजन कम होता है. और डायबिटीज के लोगों में भी इसका फायदा होता है. रागी का सेवन नन्हे शिशु को भी फायदेमंद होता है.

इसलिए रागी सत्व घर में हमेशा बना कर रखें और उसका सेवन नियमित करके अपनी सेहत में​ अधिक सुधार लाएं.

ऐसे पौष्टीक रागी सत्व नीचे दिए गए विधि के अनुसार बनाएं.

सामग्री Ingredients For Ragi Satva / Nachni Satva


1kg रागी / नाचनी 

बनाने की विधि How To Make Ragi Satva / Nachni Satva


1. रागी को साफ करके पानी से धो लें.


2. रागी को पानी में भिगोकर रागी के ऊपर तक पानी रहे, इतना पानी डालकर 1 दिन तक रखें.


3. दूसरे दिन रागी को पानी से निकाले और छलनी में छानकर रखें.


4. छलनी के ऊपर कॉटन का कपड़ा पानी में भिगोकर ढक कर रखें.


5. या फिर रागी को पतले कॉटन के कपड़े में बांधकर टांग कर रखें.


6. इस तरह रागी को अंकुरित हो जाने के बाद कॉटन के कपड़े पर फैलाकर छांव में 

सूखा ले.


7. रागी सूख जाने के बाद एक पैन में कम आंच​ पर रागी को भूनले.


8. रागी ठंडा होने पर मिक्सर जार में बारीक पीस लें या आटे की गिरनी से पिसवा कर लाए.


इस तरह रागी सत्व बनाकर एयरटाइट डिब्बे में रखें.

रागी सत्व का सेवन लड्डू या हलवा बनाकर करें.


Preparation time-10mins​

Cooking time-10mins

Total time-20mins



Post a comment

0 Comments